मजदूरों को कैसे मिलेगा प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना का लाभ?

by user

भारत के श्रम और रोजगार मंत्रालय ने असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए पेंशन योजना लॉन्च की है। इसे प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना का नाम दिया गया है। सरकार का दावा है कि इस योजना से देश भर के असंगठित क्षेत्र के 42 करोड़ मजदूरों को फायदा होगा, जिनकी मासिक आय 15000 रूपये या उससे कम है।

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना से मजदूरों को सामाजिक और आर्थिक सुरक्षा मिलेगी। इस योजना में हर महीने मजदूरों को एक न्यूनतम राशि प्रीमियम के रूप में जमा करना होगा। 60 साल की उम्र से मजदूरों को हर महीने 3000 रूपये का पेंशन मिलेगा।

सरकार का कहना है कि इस योजना से 18 से 40 साल के आयु समूह वाले मजदूरों, स्ट्रीट वेंडरों, मिड डे मील श्रमिकों, सिर पर बोझ ढोने वाले श्रमिकों, ईंट-भट्टा मजदूरों, चर्मकारों, कचरा उठाने वाले मजदूरों, घरेलू कामगारों, धोबी, रिक्शा चालकों, भूमिहीन मजदूरों, खेतिहर मजदूरों, निर्माण मजदूरों, बीड़ी मजदूरों, हथकरघा मजदूरों, चमड़ा मजदूरों और इसी तरह के अन्य व्यवसाय कर रहे मजदूरों को फयदा होगा।

हर महीने कितना जमा करना होगा प्रीमियम?

यह पेंशन योजना 18 से 40 साल के मजदूरों के लिए होगी। 18 साल के मजदूर को 55 रूपये प्रतिमाह और 40 साल के मजदूर को 200 रूपये प्रतिमाह देना होगा। हर महीने जितना प्रीमियम एक मजदूर देगा उतना ही योगदान केंद्र सरकार प्रीमियम के रूप में देगी।

18 साल के मजदूर को प्रतिमाह 55 रूपये प्रीमियम देना होगा।

20 साल के मजदूर को प्रतिमाह 61 रूपये प्रीमियम देना होगा।

25 साल के मजदूर को प्रतिमाह 80 रूपये प्रीमियम देना होगा।

29 साल के मजदूर को प्रतिमाह 100 रूपये प्रीमियम देना होगा।

30 साल के मजदूर को प्रतिमाह 105 रूपये प्रीमियम देना होगा।

35 साल के मजदूर को प्रतिमाह 150 रूपये प्रीमियम देना होगा।

40 साल के मजदूर को प्रतिमाह 200 रूपये प्रीमियम देना होगा।

कहां और कैसे करना होगा नामांकन?

हर जिले में सामुदायिक सेवा केंद्र (सीएससी) होते हैं। वहां पर मजदूरों को नामांकन कराना होगा। इसके लिए मजदूरों को फोटो, आधार कार्ड, बचत बैंक खाते, जनधन खाते और पासबुक की जरूरत होगी। आपको बता दें कि पूरे देश में 3.5 लाख से ऊपर सीएचसी सेंटर हैं। इसमें से भी 2 लाख सीएचसी सेंटर ग्रामीण इलाके में है। इसके अलावा एलआईसी के सभी कार्यालयों में सहायता केंद्र खोले जाएंगे, जिनका काम होगा कि वे मजदूरों को इस योजना के बारे में जानकारी दे और उन्हें कोई भी दिक्कत होने पर तत्काल तकनीक सहायता उपलब्ध कराएं।

मानधन योजना में पंजीकरण के लिए इस लिंक (https://maandhan.in/) पर क्लिक करें।

अपने नजदीकी सामुदायिक सेवा केंद्र (सीएससी) के बारे में जानने के लिए यहां (https://locator.csccloud.in/) क्लिक करें।

You may also like

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More